2023 में SDM Kaise Bane – योग्यता,कार्य एवं सैलरी

Hello दोस्तों ! अगर आप SDM Kaise Bane के बारे में जानकारी चाहते है, तो इस लेख में आपको SDM Kaise Bante है के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।आजकल सबका सपना होता है, की वह एक सम्मानीय जॉब करे। तो एसडीएम भी उसी प्रकार का एक प्रशासनिक जॉब होता है। प्रशासनिक विभाग में और भी कई पद होते है, जैसे बीडीओ, सीडीओ, डीसी और कलेक्टर इत्यादि।

SDM Kaise Bane

अगर आप भी इस पोस्ट पर जाना चाहते है, तो आपको कड़ी लगन एवं मेहनत के साथ पढ़ाई करनी होगी। आजकल इतना ज्यादा कम्पटीशन बढ़ गयी है कि, सिर्फ SDM ही नहीं बल्कि, आप किसी भी पोस्ट पर जाने की सोचते है, तो वहां पर भी कम्पटीशन बहुत ज्यादा होती है। इस कारण से आधे से ज्यादा लोग बेरोजगार बैठे हुए है। एसडीएम की परीक्षा बहुत कठिन ली जाती है।आजकल आप जितनी अच्छी जॉब करना चाहते है, आपको उतनी ही अधिक पढ़ाई और मेहनत करनी होगी।

अगर आप भी एक एसडीएम अधिकारी बनना चाहते है, तो SDM Kaise Bane, SDM Banne Ke liye Qualification, एवं योग्यताएं क्या होनी चाहिए। इन सब के बारे में इस आर्टिकल में जानेंगे, तो इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़े।

SDM Kya Hota Hai

एसडीएम प्रशासनिक विभाग का ही एक पद होता है, जिसका फुल फॉर्म ( Sub Divisional Magistrate सब डिविजनल मजिस्ट्रेट होता है। जिलों को विभाजित करके उपखंडों का निर्माण किया जाता है।

SDM का मतलब उप-मंडल मजिस्ट्रेट है जो किसी जिले के उपखंड का मुख्य नागरिक अधिकारी होने का हकदार है। एसडीएम को जिला उपमंडल का कार्यकारी मजिस्ट्रेट भी कहा जाता है। उस विशेष उपखंड के प्रभारी मजिस्ट्रेट को उप मंडल मजिस्ट्रेट के रूप में जाना जाता है।एक एसडीएम एक विशेष उपखंड में कानून और व्यवस्था के लिए जिम्मेदार होता है। एक उपखंड की विभिन्न जिम्मेदारियों की योजना बनाना, समन्वय करना और निर्वहन करना।

तहसीलदार व अन्य सरकारी कर्मचारियों पर एसडीएम का अधिकार होता है। वह महत्वपूर्ण महत्व के विभिन्न मामलों पर सरकारी अधिकारियों के साथ संवाद भी कर सकता है।

एसडीएम पुरे जिले की देखभाल करता है। पुरे क्षेत्र में विकास करना, नवीनीकरण करना, कई तरह के लइसेंस जारी करना एक एसडीएम का काम होता है। एवं आपदा से पीड़ित व्यक्ति की मदद करना भी एक एसडीएम की जिम्मेवारी होती है।

SDM Ke liye Qualification ( Yogyta )

अधिकतर लोग एसडीएम बनने का लक्ष्य रखते है, लेकिन एसडीएम बनने के लिए योग्यता के बारे में जानकारी नहीं होती है। तो एसडीएम क्या होता है, जानने के बाद अब हमलोग जानेंगे कि, SDM Banne Ke liye क्या क्या Qualification ( योग्यता ) होनी चाहिए।

  • सबसे पहले आपको 12th किसी भी संकाय से पास करनी होगी।
  • बारहवीं करने के बाद ग्रेजुएशन में किसी भी संकाय से 55 % अंक से पास करनी होगी।
  • आरक्षित अभ्यर्थी को ग्रैजुएशन में किसी भी संकाय में कम से कम 50 %अंक से पास करना अनिवार्य है।
  • अभयर्थी की न्यूनतम उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • अधिकतम उम्र सीमा जाति ( Category ) के आधार पर अलग-अलग है।
  • सामान्य वर्ग ( Gen ) Condidates के लिए अधिकतम उम्र-सीमा 40 वर्ष एवं अनुसूचित जाती / अनुसूचित जनजाति ( SC / ST )अभ्यर्थी के लिए 45 वर्ष निर्धारित की गयी है।
  • एवं PWD category के लिए 55 वर्ष निर्धारित है ।
  • Condiates ( अभ्यर्थी )भारत का नागरिक होना चाहिए।

इसे भी पढ़े IAS Kaise Bane

SDM Kaise Bane ?

Daroga Banne ke liye Qualification जानने के बाद आप सोच रहे होंगे की SDM Kaise Bane तो आईए जानते है।

  • सर्वप्रथम आपको ग्रैजुएशन करना होगा।
  • ग्रेजुएशन करने के पश्चात आप एसडीएम बनने के लिए होने वाले परीक्षा के लिए अप्लाई ( आवेदन ) कर सकते है।
  • एसडीएम अधिकारी आप दो तरह के परीक्षा को क्लियर कर के बन सकते है।
  1. State Public Service Commission ( SPSC ) द्वारा आयोजित CSE की परीक्षा पास करके आप SDM बन सकते है।
  2. Union Public Service Commission ( UPSC ) द्वारा भी आयोजित CSE की परीक्षा पास करके आप एसडीएम बन सकते है।
  • SPSC एवं UPSC द्वारा प्रति वर्ष सिविल सेवा परीक्षा ( CSE ) के लिए आवेदन निकाली जाती है।
  • आपका जिसमे भी मन हो आप उसमे Apply ( आवेदन ) कर सकते है।
  • संघ लोक सेवा आयोग ( UPSC ) एवं SPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है, उसके बाद ही आप एसडीएम पद पर जा सकते है।
  1. प्रिलिम्स पास करना होता है।
  2. प्रिलिम्स पास करने के बाद आपको मेंस ( मुख्य परीक्षा ) पास करना होगा।
  3. दोनों परीक्षा पास करने के बाद आपको इंटरव्यू क्लियर करना होगा।
  • जो कन्डीडेट्स तीनो परीक्षा में सफल होते है, उनका नाम मेरिट लिस्ट में होता है।
  • जिस अभ्यर्थी का नाम मेरिट लिस्ट में नाम आ जाता है, उनका चयन S.D.M ( Sub Divisional Magistrate ) पद के लिए हो जाता है।

SDM Ka Income ( Salary )

SDM Kaise Bane, SDM Ke Liye Qualification, एवं उसके कार्य जानने के बाद आपके मन में यह सवाल जरूर होगा कि, एक एसडीएम अधिकारी की सैलरी क्या होती होगी । तो आईये जानते है की एक एसडीएम अधिकारी की सैलरी क्या होती है।

एसडीएम का न्यूनतम सैलरी 53,100-67,700 रूपये है। एवं अधिकतम सैलरी एक लाख से भी अधिक अधिक है। भारत में एसडीएम का वेतन ₹ 1.8 लाख से ₹ 30.0 लाख के बीच है और औसत वार्षिक वेतन ₹ 2.2 लाख है।

एक एसडीएम अधिकारी को अच्छी खासी वेतन के साथ-साथ सरकारी सुख-सुविधाएं भी प्रदान की जाती है। जैसे रहने के लिए घर, यात्रा के लिए वाहन इत्यादि।

Books For SDM Preparation 

Conclusion ( निष्कर्ष )

इस आर्टिकल में मैंने आपको SDM Kaise Bane , Qualification, Duty ( कार्य ) एवं एक SDM की सैलरी के बारे में जानकारी दी। आशा करते है, यह आर्टिकल आपको बेहद अच्छा लगा होगा। एवं इससे सम्बंदित कोई भी सवाल आपके मन में हो तो आप निचे Comment कर सकते है।

अगर आपको SDM Kaise Bane से जानकारी अच्छी लगी हो तो इस blog को फॉलो करना न भूले। क्योंकि इसी तरह के Career ( jobs )के बारे में जानकारियां इस ब्लॉग में दी जाएगी। धन्यवाद !

FAQ

Que 1. 12वीं के बाद एसडीएम कैसे बने ?

Ans- बारहवीं बाद आपको किसी भी संकाय से ग्रेजुएशन करनी होगी। एवं उसके बाद आप एसडीएम बनने के लिए UPSC एवं SPSC द्वारा आयोजित करने वाली परीक्षा के लिए अप्लाई कर सकते है। इसमें तीन चरण में परीक्षा होती है। तीनो चरण में सफल होने के बाद ही आप एक एसडीएम की पोस्ट पर जा सकते है।

Que 2. एसडीएम को हिंदी में क्या कहते हैं ?

Ans- SDM का फुल फॉर्म ( Sub Divisional Magistrate सब डिविजनल मजिस्ट्रेट होता है। इसे हिंदी में उप-मंडल मजिस्ट्रेट कहा जाता है।

Que 3. एसडीएम कितना कमाते हैं ?

Ans- एसडीएम का न्यूनतम सैलरी 53,100-67,700 रूपये है। एवं अधिकतम सैलरी एक लाख से भी अधिक अधिक है। भारत में एसडीएम का वेतन ₹ 1.8 लाख से ₹ 30.0 लाख के बीच है और औसत वार्षिक वेतन ₹ 2.2 लाख है।

 

Leave a Comment